इंडियन पैनल कोड -१४४ ( धारा -१४४ ) आये जानते है ये है क्या ?

0
86
इंडियन पैनल कोड -१४४

इंडियन पैनल कोड -१४४ आखिर है क्या ?

इंडियन पैनल कोड -१४४ को समझते है |धारा -१४४ है जो १४३ का बड़ा रूप हैं| जब भीड़ जानलेवा हथियार को लेकर कही भी विधि के विरुद्ध एकत्र होते है | इसमें उस व्यक्ति को अधिकतम २ साल का कारावास और आर्थिक दंड मिलता है | जब कभी असामजिक तत्व दंगा फ़ैलाने की कोशिश करते है तो ये धारा हमेशा लगायी जाती है और हमे अक्सर सुनाई दे जाती है | जब कभी भी कोई कम्युनल डिस्प्यूट होता है तो यही धारा सरकार का बहुत बड़ा हथियार होती है | इस धारा के तहत अपराध सिद्ध होने पे आपको या तो २ साल का कारावास या आर्थिक दंड या दोनों मिल सकती है | इसमें व्यक्ति की जमानत का प्रवधान है |ये धारा हम जब गुलाम थे तब से प्रयोग की जाती रही है | पहले अंग्रेज करते है अब हमारी सरकार |

भारत के सविधान के तहत हर नागरिक एकत्र होने का अधिकार है-

 

भारत के सविधान के तहत हर नागरिक को अनुच्छेद 91 (१) ख में शांतिपूर्वक एकत्र होने का अधिकार है | भारत के नागरिक अपने पसंद से जनसभा और जुलुस निकल सकते है |लेकिन ये अधिकार भारत की सम्प्रभुता और अखंडता के हित में राज्य दवरा  उचित प्रतिबंद के अधीन होता है | और इसलिए एक उपयुक्त अधिकारी सार्वजनिक सभाओ पे रोक लगा सकता है | लेकिन उन्हें दलील देनी पड़ती है की शांति बनाये रखने के लिए ये करना जरुरी है |

गैर कानूनी असेंबली क्या है –

इसके अंतर्गत ५ व्यक्ति या उससे अधिक लोग आते है |लेकिन जहा केवल ५ व्यक्ति ही नामित है और उसमे से एक व्यक्ति पे अपराध साबित हो जाता है | शेष को बरी कर दिया जाता है जो की गैर असेंबली बनाने के लिए अभियुक्त हुए थे |

धारा -१४४ – घातक हथियार से सुज्जजित होकर विधि विरुद्ध जनसमूह में सम्मलित होना

सजा -२ साल कारावास या आर्थिक दंड या दोनों

यह एक जमानतीय अपराध है | और किसी मजिस्ट्रेट दवरा विचारणीय है |

आप इसे पढ़ना भी पसंद कर सकते हैं : आखिर हत्या में लगने वाली धारा – इंडियन पैनल कोड – ३०२ – क्या है ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here