केले के रंग और रोगों से निवारण –

0
605
केले

केले में है 100 प्रतिशत कैलोरी –

केला ऐसा फल है गरीब और अमीर सब खा सकते है | इसके अलग -अलग फायदे है |ये ऐसा फल है जिसको आपको कच्चे और पक्के सब तरह से खा सकते है |केला ही एक ऐसा फल है जिसमे 100 प्रतिशत कैलोरी होता है |इसलिए कहते हैं कि यदि फिट और हेल्दी रहना है तो केला जरूर खाना चाहिए। अब सवाल ये उठता है कि कौन से केले का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। आप सोच रहे होंगे कि केला तो एक ही प्रकार का होता है। हर केले का रंग स्वास्थ्य के लिहाज से अलग-अलग तरह से फायदेमंद होता है। आइए जानते हैं कौन से रंग का केला कैसे होता है फायदेमंद |

केले

हरे रंग (कच्चे केले ) खाने का फायदा –

हरे रंग के केला अक्सर कच्चे केले माने जाते हैं। ये खाने में कम आते हैं। लेकिन अगर आप डाइटिंग पर हैं और खाने में शुगर की मात्रा कम करना चाहते हैं तो यकीन मानिए इससे अच्छा हेल्दी ऑप्शन कोई नहीं हो सकता। इन कच्चे केलों में प्रोबायोटिक बैक्टीरिया पाए जाते हैं, जो आपकी पाचन क्रिया को सही रखने में सक्षम होते हैं।

पीले रंग (पक्के केले ) खाने के फायदा –

केलेकहीं हमें पूरा पीला केला दिख जाए, तो हम इसे सबसे ज्यादा फ्रेश और अच्छा मानते हैं और देखते ही खरीद लेते हैं। ये पीला केला भी स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है, लेकिन अलग तरह से। इसमें हरे केले से ज्यादा एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं। हां, लेकिन इसमें ग्लाकमिक इंडेक्स बहुत ज्यादा होता है, इसलिए डायबिटीज के रोगी पीले केले खाने से जरूर बचें।

काळा धब्बे वाले केले –

जिस केले पर काले धब्बे हों, उसे खराब माना जाता है। पर ये खराब नहीं होता लेकिन माना जाता है कि जिस केला पर जितने ज्यादा धब्बे होते हैं, वो उतना ज्यादा मीठा होता है, क्योंकि इसमें मौजूद स्टार्च शुगर में बदल जाता है। बता दें कि काले धब्बे वाले केले आपके इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने में बहुत मदद करते हैं। ऐसे केले आपको कैंसर जैसी बीमारी से भी बचा सकते हैं।

केलेब्राउन केले को खाने के फायदे –

अगर केला का रंग ब्राउन हो जा, तो हम बिना सोचे समझे इसे रिजेक्ट कर देते हैं। न तो ये देखने में अच्छे लगते हैं और न ही टेस्ट में। लेकिन बता दें कि इस रंग के केले में सबसे ज्यादा एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं। इसमें स्टार्च पूरी तरह शुगर में बदल जाता है, इसलिए अन्य रंग के केलों के बजाए ये ज्यादा मीठा होता है। इसलिए डायबिटीज के मरीजों को इस रंग के केले खाने से बचना चाहिए।

आप इसे पढ़ना भी पसंद कर सकते है:-जम्हाई क्यों आती है ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here