गरीब हो गया है भारत ?

0
796
गरीब (2)

भारत और दक्षिण एशिया का तीसरा सबसे गरीब देश –

भारत की स्तिथि उतना सामान्य नहीं है जितना दिखाया जा रहा है |एक तो हम पहले ही परेशां चल रहे थे और फिर ये कोरोना काल इसमें भी अर्तव्यवस्था को बहुत नुक्सान पहुंचाया |जो को हम इस स्थति आ पहुंचे है | कोरोना में हर देश को नुकसान हुआ बस चीन ही ऐसा है जिसे बहुत ही कम नुकसान हुआ हैं |भारतीय सरकार को इन चीजें पर गौर करना चाहिए | और अपनी नीतियां में भी बदलाव लाना चाहिए | जिससे अर्थव्यवस्था को थोड़ा बूम मिल सके |
कही ऐसा न हो हम ट्रिलियन अर्तव्यवस्था बन तो सके नहीं जो हमारे पास है उससे कही ज्यादा नीचे जाकर टिके|जीडीपी का इस तरह से गिरना देश के स्वास्थ के लिए अच्छा नहीं है |आज जो अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष ने अनुमान लगाया उसका विवरण हम नीचे दे रहे है |इससे भारत गरीब होता जा रहा है |

जीडीपी के रेस में भारत से आगे निकलता बांग्लादेश –

गरीबअंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की एक रिपोर्ट के मुताबिक, प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के मामले में बांग्लादेश भारत को पछाड़ते हुए आगे निकलने को तैयार है अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF)-वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटलुक (WEO) के मुताबिक, साल 2020 में बांग्लादेश की प्रति व्यक्ति जीडीपी 4 फीसदी बढ़कर 1,888 डॉलर होने की उम्मीद है, जबकि भारत की प्रति व्यक्ति जीडीपी 10.3 प्रतिशत घटकर 1,877 डॉलर रहने की उम्मीद है – जो पिछले चार वर्षों में सबसे कम है आईएमएफ ने अनुमान जताया है कि इस साल भारत की जीडीपी में 10.3 फीसदी की गिरावट आ सकती है|

भारत का जून के अनुमान से ये रिपोर्ट बहुत ज्यादा नीचे –

गरीब (3)भारत के लिए आईएमएफ का यह अनुमान, जून में किए गए पूर्वानुमान से बहुत नीचे है, जिसमें कहा गया है कि कोरोनोवायरस महामारी की वजह से उभरते बाजारों में सबसे बड़ा संकुचन देखने को मिल सकता है मंगलवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक, दोनों देशों की जीडीपी का यह आंकड़ा मौजूदा कीमतों पर आधारित है जून में आईएमएफ के पिछले पूर्वानुमान में कहा गया था कि उत्पादन 4.5 प्रतिशत कम हो जाएगा|

अब भारत केवल पाकिस्तान और नेपाल से ही आगे होगा –

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF)-वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटलुक (WEO)की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत दक्षिण एशिया में तीसरा सबसे गरीब देश बनने की ओर अग्रसर हैऔर केवल पाकिस्तान और नेपाल की प्रति व्यक्ति जीडीपी ही भारत से कम होगी जबकि बांग्लादेश, भूटान, श्रीलंका और मालदीव जैसे देश भारत से आगे होंगे| साउथ एशिया के देशों में अब तक भारत के ये सबसे निचली स्थति है |इधर भारत में बेरोजगारी भी बढ़ी है |और लोगों क्रय करने की क्षमता भी लगातार घाट रही है |लोगों को अपने व्यापार में भी लगातार घाटे के सामने करना पड़ रहा है |

आप इसे पढ़ना भी पसंद कर सकते हैं:-फेसबुक ने प्याज के विज्ञापन को नग्नता मानकर क्यों डिलीट किया ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here