जो रूट एक उभरता हुआ खिलाडी –

0
471
जो रूट

जो रूट भारतीय टीम के लिए सिरदर्द –

आज मैं जो रूट की बात इसलिए कर रहा हूँ क्योकि इंग्लैंड की टीम भारत में मैच खेलने आयी है|भारतीय टीम का उत्साह बहुत अच्छा है क्योकि हम अभी ऑस्ट्रेलिया को उन्ही के घर में हराके आये है और उस समय भी जब हमारे कई सीनियर खिलाडी चोटिल थे|इन मैचों पर पूरी दुनिया की प्रतिक्रिया आयी है |बी सी सी आई ने इसके लिए इनाम की घोषणा भी की है |

अब हमारा सामना हमारे घर में इंग्लैंड से है |और भारत के जीत में सबसे बड़े बाधक अगर कोई बन सकता है तो वो जो रूट है | जिनका यहाँ क्रिकेट एक खेल भर ही नहीं है एक धर्म है क्योकि कई पीडियों से उनके घर ये खेल खेलते आ रही है और एक दौर ये भी था जब एक लीग मैच में जो रूट और उनके पिता और उनका भाई बिल रूट तीनो खेल रहे थे | इसलिए हमने सोचा की आपके जो रूट के बारे में बताया जाये |

रूट का पहला और 100वा टेस्ट भारत में –

जो रूट टीम इंग्लैंड क्रिकेट टीम के खिलाड़ी है| वो दाहिने हाथ से बल्लेबाज़ी करते हैं इनका 30 दिसंबर 1990 को इंग्लैंड के शेफ़ील्ड में हुआ | और उन्होंने अपने टेस्ट क्रिकेट की शुरुआत 13 दिसम्बर 2012 में की थी|और एक बात ये भी मैच भारत के खिलाफ ही खेला था |जो रूट अपना इस बार 100 वा टेस्ट खेल रहे है |सबसे खास बात है की वो दुनिया के पहले ऐसे खिलाडी हो जायेंगे की अपना पहला टेस्ट और 100 वा विदेश में खेल रहे है |वो इंग्लैंड के टेस्ट कैप्टन भी है |जो रूट ने इस टेस्ट से पहले 19 शतक और 49 अर्धशतक समेत 8249 रन बनाया है |

जो रूट दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक हैं, वो दुनियाभर की सभी टीमों के खिलाफ रन बनाते हैं लेकिन भारत से उन्हें खास लगाव है जो रूट ने भारत के खिलाफ 20वीं बार 50 से ज्यादा रनों की पारी खेली है| ये कारनामा करने वाले वो इंग्लैंड के महज तीसरे खिलाड़ी हैं|यॉर्कशायर में क्रिकेट का ककहरा सीखने वाले रूट का 2012 के बाद से भारत में 7वां टेस्ट है और उन्होंने हर मैच में कम से कम एक अर्धशतक तो लगाया ही है| साफ है रूट को भारतीय पिचें खूब रास आती हैं|

रूट और उनका भाई बिली रूट दोनों ने ही क्रिकेट को चुना है –

जो रूट का परिवार क्रिकेट में ही रचा बसा है |शैफील्ड कॉलेजिएट क्रिकेट क्लब के लिए खेला है.जो इनका घरेलु क्लब था इसमें तीनों एक साथ(इनके पिता और जो रूट और बिली रूट ) टीम के लिए भी खेले|आप समझ सकते है की इनके घर का क्या माहोल होगा |इनके परिवार के लोग क्रिकेट के आलावा केवल संगीत सुनना पसंद करते है |बिली रूट ने अभी तक वैसे इंग्लैंड टीम के लिए नहीं खेल सके है |बस एक बार वो अंतराष्ट्रीय मैच में फील्डिंग करते दिखाई दिए थे |वो जो रूट से 2 साल छोटे है |

दोनों भाई के एक मैच आमना-सामना –

जब दोनों भाई एक ही प्रोफेशन में हो तो इतना लाज़िमी है की उनका भी एक दूसरे से आमना -सामना हो | एक मैच ऐसा हुआ था जब ये अपनी घरेलु स्पर्धा खेल रहे थे |जो रूट यार्कशायर के लिए खेल रहे थे और बिली रूट नॉटिंघमशायर के लिए खेल रहे थे |दोनों इस मैच में चाहते थे जीते |लेकिन जो रूट ने अपनी टीम को जीता ले गये| बिली रूट ने बताया था की मैं भी ये मैच जितना चाहता था |और मैंने जो रूट को उकसाना चाहा था |

लेकिन मेरे साथ इतने मैच खेलने हुए उसने मेरी भावनाओं का समझ लिया था |उसीदिन जो और बिली के डैड एक तस्वीर ट्वीट किया था जिसमे दोनों भाई एक कार से मैच खेलने जा रहे है |लेकिन एक दूसरे के खिलाफ |ऐसी कई बार अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में की एक ही मैच में दो जुड़वाँ भाई खेलते दिखे है |अब बस देखना है की कब इंग्लैंड की टीम में इन दोनों भाइयों को साथ खेलते देखंगे |

चेन्नई टेस्ट में आज के दिन जो रूट अर्धशतक लगाया –

आज भारत के साथ इंग्लैंड का पहला टेस्ट मैच है और जो रूट ने चेन्नई टेस्ट की पहली पारी में जो रूट ने शानदार अर्धशतक जमाया|जो रूट ने चेन्नई में अर्धशतक लगाते ही इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइक एथर्टन को भी पीछे छोड़ दिया| जो रूट ने इंग्लैंड के कप्तान के तौर पर 31वीं बार 50 से ज्यादा रनों की पारी खेली और वो एथर्टन से आगे निकल गये|जो रूट से आगे सिर्फ एलिस्टर कुक हैं जिन्होंने 36 बार 50 से ज्यादा रनों की पारी खेली है|अभी तो ये पहली पारी की अपडेट है |चलिए देखते जो रूट अपने कद के हिसाब से खेलते है या भारत के सामने आत्मसमर्पण ही करेंगे |

आप इसे पढ़ना भी पसंद कर सकते हैं:-डिएगो माराडोना और हैंड ऑफ़ गॉड

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here