ट्रम्प ने क्यों कहा की – ट्विटर २०२० के चुनाव में कर रहा है हस्तक्षेप ?

0
184
ट्रम्प

ट्रम्प ने क्यों कहा की – ट्विटर २०२० के चुनाव में कर रहा है हस्तक्षेप ?

ट्रम्प को कौन नहीं जानता ये अमेरिका वाले ट्रम्प है | जब इतने ताकतवर देश का राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ट्विटर के बारे में ऐसा कहे तो कुछ तो बात हुई होगी | हुआ ये की डोनाल्ड ट्रम्प ने एक ट्वीट किया -और ट्विटर ने उनके ट्वीट पे फैक्ट चेकिंग का नोटिफिकेशन लगा दिया | जिससे डोनाल्ड ट्रम्प नाराज हो गए | सबसे पहले हम आपको बताते है की आखिर ट्रम्प ने ट्वीट क्या किया था | उनके २ ट्वीट पे ट्विटर ने ऐसा क्यों किया | पहला ट्वीट जिसमे ट्रम्प ने लिखा -“पोस्टल मतदान में धांधली होने की पूरी संभावना है| मेल बॉक्स को चोरी किया जा सकता है, इसके ज़रिए फर्जी मतदान किया जा सकता है और फिर इसे अवैध तरीके से प्रिंट कर के भी भेजा जा सकता है|”

ट्रम्प (2)

इस पर ट्रम्प ने एक कड़ी प्रतिक्रिया दी और ट्विटर को ट्वीट के जरिये ही जवाब दिया – उन्होंने कहा कि” ट्विटर अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अधिकार का दम घोंट रहा है| ट्विटर के नोटिफिकेशन में लिखा गया है “पोस्टल मतदान से जुड़े तथ्यों के बारे में जानिए| पर ट्रंप अपनी प्रतिक्रिया में यहीं नहीं रुके| उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर राष्ट्रपति चुनावों में हस्तक्षेप करने का आरोप लगाया|

उसके बाद ट्रम्प ने कई ट्वीट किये – ट्रंप ने ट्वीट कर कहा, “अब ट्विटर 2020 के राष्ट्रपति चुनावों में हस्तक्षेप कर रहा है|उसका कहना है कि पोस्टल मतदान पर मेरा बयान भ्रष्टाचार और धांधली को बढ़ावा दे सकता है| इसके लिए वह सीएनएन और वॉशिंगटन पोस्ट की एक फैक्ट चेकिंग स्टोरी को आधार मान रहा है| अमेज़न समर्थित वॉशिंगटन पोस्ट और फेक न्यूज़ फैलाने वाले सीएनएन को आधार मान रही है”
“ट्विटर फ्री स्पीच को पूरी तरह रोक रहा है और मैं राष्ट्रपति होने के नाते ऐसा होने नहीं दूंगा”

इसपर ट्विटर का अपना मत आया है –

राष्ट्रपति ट्रम्प के ट्वीट के नीचे जो ट्विटर ने नोटिफिकेशन लगाया है | वो यूजर को एक ऐसे पेज पे ले जाता है| जहां पोस्टल बैलट को लेकर किए गए राष्ट्रपति ट्रंप के दावे को- ‘तथ्यों के परे करार दिया गया है’ |ट्विटर ने राष्ट्रपति ट्रंप के दावे को बेबुनियाद करार देने के लिए सीएनएन, वॉशिंगटन पोस्ट और दूसरे न्यूज़ आउटलेट्स की रिपोर्टों का सहारा लिया है|
इस पेज पर ट्विटर ने अपने यूजर को बताया है की आपको क्या जानने की जरुरत है ?ट्विटर का कहना है कि राष्ट्रपति ट्रंप का दावा गलत है कि पोस्टल बैलट से चुनावों में धांधली की संभावना है|फैक्ट चेक करने वाले लोगों के हवाले से ट्विटर का कहना है कि इस बात के कोई सबूत नहीं मिले हैं कि पोस्टल बैलट से मतदाताओं के साथ धोखाधड़ी की जा सकती है|

आप इसे पढ़ना भी पसंद कर सकते हैं:-सुप्रीम कोर्ट ने क्यों कहा की – मुफ्त जमीन लेने वाले मुफ्त इलाज क्यों नहीं कर सकते ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here