न्यूज़ पेपर पहला कब छपा ?

0
186
न्यूज़ पेपर

न्यूज़ पेपर और अखबार –

न्यूज़ पेपर ये शब्द बहुत ही अपना सा लगता है | बहुत बार सुना बचपन में सुना लेकिन कभी ये जानना चाहा की ये आया कहा से और दुनिया का पहला न्यूज़ पेपर कब छपा | मैं बताता हु आपको समाचार पत्र या अख़बार, समाचारो पर आधारित एक प्रकाशन है, जिसमें मुख्यत: सामयिक घटनायें, राजनीति, खेल-कूद, व्यक्तित्व, विज्ञापन इत्यादि जानकारियां सस्ते कागज पर छपी होती है। समाचार पत्र संचार के साधनो में महत्वपूर्ण स्थान रखते हैं। समाचारपत्र प्रायः दैनिक होते हैं लेकिन कुछ समाचार पत्र साप्ताहिक, पाक्षिक, मासिक एवं छमाही भी होतें हैं। अधिकतर समाचारपत्र स्थानीय भाषाओं में और स्थानीय विषयों पर केन्द्रित होते हैं।
सबसे पहला ज्ञात समाचारपत्र 59 ई.पू. का ‘द रोमन एक्टा डिउरना’ है। जूलिएस सीसर ने जनसाधरण को महत्वपूर्ण राजनैतिज्ञ और समाजिक घटनाओं से अवगत कराने के लिए उन्हे शहरो के प्रमुख स्थानो पर छपवाया |और पहला प्रिंटेड न्यूज़ पेपर 1605 में जोहान कॅरोलस ने चलाया था जिसका नाम था ‘ रिलेशन ‘ ये सामान्य ख़बरों का संग्रह था |इसे वर्ल्ड एसोसिएशन ऑफ़ न्यूज़ पेपर ने इसे ही पहला प्रिंटेड न्यूज़ पेपर माना | रिलेशन जर्मन भाषा में स्टारबोर्ग में प्रकशित हुआ |

न्यूज़ पेपर (2)

भारत में न्यूज़ पेपर की शुरआत –

कहा तो ये जाता है की भारत में एक ब्रिटिश अधिकारी द्वारा सबसे पहले अखबार या न्यूज़ पेपर की शरुवात हुई थी लेकिन वो एक न्यूज़ पेपर की तरह नहीं दिखता था |वो एक पर्चा मात्र था |पूर्णरूपेण अखबार बंगाल से ‘बंगाल-गजट’ के नाम से वायसराय हिक्की द्वारा निकाला गया था। आरंभ में अँग्रेजों ने अपने फायदे के लिए अखबारों का इस्तेमाल किया, चूँकि सारे अखबार अँग्रेजी में ही निकल रहे थे, इसलिए बहुसंख्यक लोगों तक खबरें और सूचनाएँ पहुँच नहीं पाती थीं। बंगाल जो भारत का ही एक स्टेट था और ब्रिटिश का शासन भारत पे था | और भारत में ज्यादातर लोग अपनी लोकल लैंग्वेज या तो हिंदी बोलते है | न्यूज़ पेपर का भी भारत की आज़ादी में बहुत बड़ा योगदान था | और पहले लोग अपनी बात रखने के लिए न्यूज़ पेपर का प्रयोग करते थे |

आप इसे पढ़ना भी पसंद कर सकते हैं:-फर्श पे सोने वाला लड़का कैसे बना गूगल का सीईओ ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here