पुष्पम प्रिया चौधरी -आखिर हमेशा काले कपडे क्यों पहनती है ?

0
410
पुष्पम प्रिया चौधरी

पुष्पम प्रिया चौधरी -खुद को क्यों घोषित किया मुख्यमंत्री –

पुष्पम प्रिया चौधरी ये नाम बिहार चुनाव में बहुत ही पॉपुलर हो रहा है | लोगों इनके बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी जानने के लिए आतुर दिखाई दे रहे है और वो हर जगह काले कपडे में ही दिखाई दे रही है इसके बारे में भी लोग जानने के इच्छुक है | चलिए शुरू करता हूँ जब बिहार चुनाव शुरू नहीं हुआ था तभी तमाम बड़े पेपर में इनके नाम का बड़ा -बड़ा विज्ञापन छपा था और खुद को बिहार का अगला मुख्यमंत्री घोषित किया था | ये जनता दल यूनाइटेड के नेता और एमएलसी रहे विनोद चौधरी की बेटी है |लंदन से पढ़कर लौटी पुष्पम प्रिया चौधरी ने 8 मार्च २०२० को प्लुरलस पार्टी की स्थापना की |जो की बिहार के सभी सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती थी |

पुष्पम प्रिया चौधरी (2)

नेताओं के उजले कपडे की तुलना में पुष्पम ने काले कपडे पहना –

चुनाव के लिए पुष्पम प्रिया चौधरी कई महीनो से बिहार के गावों का दौरा कर रही है और हमेशा वो काले कपडे में ही दिखाई देती है जब इसके बारे में उनसे पूछा गया तो उन्होंने कहा की जब सब नेता उजले कपड़े पहनके घूमते है तो मैं क्या काले कपडे नहीं पहन सकती | वैसे भी नेताओं का कोई ड्रेस कोड नहीं होता है |वो बिहार को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने का सपना देखती है और खुद को नेता के तौर पर भी नहीं देखती है वो कहती है की मैं लंदन से इकोनॉमिक्स में पालिसी की ट्रेनिंग लेकर आयी हूँ और मैं खुद को पॉलिसी मेकर ही मानती हूँ |इस बिहार चुनाव में वो खुद मधुबनी जिले के बिस्फी विधानसभा से चुनाव लड़ रही है |

पुष्पम प्रिया चौधरी (4)

प्लुरलस पार्टी और चौधरी की मुसीबते –

लेकिन उनकी पार्टी को इस चुनाव में मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है कभी अपने प्रत्याशी जाति के नाम पर बिहारी लिखने में या फिर पहले चरण के चुनाव में 61 प्रत्याशी में से 28 का नामांकन ख़ारिज होने में या फिर राज भवन के पास धरना देने में गिरफ़्तारी देने में |लेकिन जनता को देखना होगा की वो कैसे प्रत्याशी चुनते है क्योकि जनता ने 15 साल दोनों लोगो को शासन देख रखा है और क्या बदलाव पर वोट करेंगे | ये हमे 10 नवंबर को पता चल जायेगा अभी बिहार चुनाव में दो चरण की वोटिंग हो चुकी है केवल एक चरण बचा है |इनकी पार्टी का कहना की 10 साल में बिहार को विकसित राज्यों की श्रेणी में लाकर खड़ा कर देंगे | जैसे अभी तक देखा जा रहा है NDA और महागठबंधन में टक्कर दिखाई दे रही है |

आप इसे पढ़ना भी पसंद कर सकते है:-करवा चौथ और बाजार –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here