ब्लू -टूथ और वाई -फाई का अंतर –

0
851
ब्लू -टूथ

ब्लू -टूथ और वाई -फाई –

आज के दौर में सबके पास कोई न कोई ऐसा डिवाइस होगा जिसमे वाई -फाई और ब्लू -टूथ होगा ही | क्योकि हमने इन शब्दों का नाम तो आम -बोल चाल की भाषा में बहुत सुना है लेकिन क्या इसमें क्या अंतर होता है हम जानते है | आइये आपको इस अंतर के बारे में बताते है |वाई -फाई या ब्लू -टूथ दोनों ही वायरलेस गतिविधियों पे आधारित है |

ब्लू -टूथ (2)

ब्लू -टूथ की शुरवात –

ब्लू -टूथ को 1990 में बनाया गया था ये छोटे दूरियों के वायरलेस कम्युनिकेशन को बढ़ावा देने के लिए बना था | जिससे लैपटॉप या टीवी , स्मार्टफोन एक दूसरे से जुड़ सके और उनके बीच चीजें को आदान-प्रदान बहुत ही सरल तरीके से हो सके |ब्लू -टूथ रेडिओ फ्रीक्वेंसी पे काम करता है | इसका आशय ये है की जो पहले हम तार से कंप्यूटर को कंप्यूटर से जोड़ते थे वो अब वो आसान हो गया |ब्लू -टूथ में बस डाटा थोड़ा धीमे ट्रांसफर होता है |

वाई -फाई के कदम –

वाई -फाई तो वैसे है एकदम ब्लू -टूथ की ही तरह लेकिन ये डाटा बहुत तेजी से ट्रांसफर करता है बिना वायर के |ये डाटा ट्रांसफर में कम पावर लेता है ये सिगनल को कई भागो में तोड़ देता है और मल्टीपल रेडिओ तकनीक का प्रयोग करके कम पावर में ही और कम समय में एक डिवाइस से दूसरे डिवाइस में डाटा भेज देता है |ये भी 1990 में ही प्राम्भ हुआ था | और ये इंस्टीटुए ऑफ़ इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर्स से एप्रूव्ड भी है ज्यादा बैंडविड्थ का प्रयोग कर सकता है डाटा ट्रांसफर में |

हालाकि दोनों ही वायरलेस तकनिकी है लेकिन दोनों का लक्ष्य अलग -अलग रखा गया है |इन दोनों की क्षमता भी अलग -अलग है |ब्लू -टूथ शार्ट रेंज डाटा ट्रांसफर है डिवाइस के बीच में |जबकि वाई -फाई हाई स्पीड डाटा ट्रांसफर करता है जबकि कम दुरी हो |

आप इसे पढ़ना भी पसंद कर सकते हैं:-MiG एयरक्राफ्ट का नाम मिग क्यों पड़ा ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here