भारत का सबसे प्राचीन शहर कौन है ?

0
950
प्राचीन शहर

काशी एक शहर –

आपने कभी इस चीज पे गौर किया अगर नहीं भी किया तो कोई बात नहीं आज हम आपको बताते है | भारत में वैसे तो बहुत सारे प्राचीन शहर जैसे -मथुरा, अयोध्या, द्वारिका, कांची, उज्जैन, रामेश्वरम, प्रयाग (इलाहाबाद), पुष्कर, नासिक, श्रावस्ती, पेशावर (पुरुषपुर), बामियान, सारनाथ, लुम्बिनी, राजगिर, कुशीनगर, त्रिपुरा, गोवा, महाबलीपुरम, कन्याकुमारी, श्रीनगर, गांधार आदि लेकिन एक शहर भी बच गया जिसका इतिहास में भी याद किया जाता है उसका नाम काशी है |काशी को ‘वाराणसी’ और ‘बनारस’ भी कहा जाता है।प्राचीन भारत में १६ जनपद थे उनमे से एक काशी भी थी |

काशी की प्राचीनता –

शहरों और नगरों में बसाहट के अब तक प्राप्त साक्ष्यों के आधार पर एशिया का सबसे प्राचीन शहर वाराणसी को ही माना जाता है। इसमें लोगों के निवास के प्रमाण 3,000 साल से अधिक पुराने हैं। हालांकि कुछ विद्वान इसे करीब 5,000 साल पुराना मानते हैं, लेकिन हिन्दू धर्मग्रंथों में मिलने वाले उल्लेख के अनुसार यह और भी पुराना शहर है।

प्राचीन शहर (2)

विश्व के सर्वाधिक प्राचीन ग्रंथ ऋग्वेद में काशी का उल्लेख मिलता है। यूनेस्को ने ऋग्वेद की 1800 से 1500 ईपू की 30 पांडुलिपियों को सांस्कृतिक धरोहरों की सूची में शामिल किया है।

यूनेस्को के अनुसार –

उल्लेखनीय है कि यूनेस्को की 158 सूचियों में भारत की महत्वपूर्ण पांडुलिपियों की सूची 38 है।वेद का वजूद इससे भी पुराना है। विद्वानों ने वेदों के रचनाकाल की शुरुआत 4500 ईपू से मानी है या‍नी आज से 6,500 वर्ष पूर्व। हालांकि हिन्दू इतिहास के अनुसार 10,000 वर्ष पूर्व हुए कश्यप ऋषि के काल से ही काशी का अस्तित्व रहा है|

वाराणसी क्यों पड़ा काशी का नाम ?

प्राचीन शहर (3)

दो नदियों ‘वरुणा’ और ‘असि’ के मध्य बसे होने के कारण इसका नाम ‘वाराणसी’ पड़ा।ये शहर उत्तरप्रदेश में स्थित है |ये हिन्दू धर्म का बहुत पुरातन पवित्र शहर है यहाँ हिंदुयों के कई पवित्र स्थल है | जैसे काशी विश्वनाथ ,संस्कृत पढ़ने के लिए प्राचीनकाल से ही लोग वाराणसी आया करते थे। वाराणसी के घरानों की हिन्दुस्तानी संगीत में अपनी ही शैली है।

भगवान बुद्ध और शंकराचार्य के अलावा रामानुज, वल्लभाचार्य, संत कबीर, गुरु नानक, तुलसीदास, चैतन्य महाप्रभु, रैदास आदि अनेक संत इस नगरी में आए। एक काल में यह हिन्दू धर्म का प्रमुख सत्संग और शास्त्रार्थ का स्थान बन गया था।इजिप्ट (मिस्र), बगदाद, देहरान, मक्का, रोम, एथेंस, येरुशलम, बाइब्लोस, जेरिको, मोहन-जोदड़ो, हड़प्पा, लोनान, मोसुल आदि नगरों की दुनिया के प्राचीन नगरों में गिनती की जाती है|

आप इसे पढ़ना भी पसंद कर सकते हैं:-ज्ञानपीठ पुरस्कार -भारतीय साहित्य का सर्वोच्च पुरस्कार क्यों है ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here