रजनी चांडी:69 साल की महिला ने ऐसा क्या किया की ट्रोल हो रही है ?

0
218
रजनी चांडी

रजनी चांडी और सामाजिक धारणा-

मलयाली अभिनेत्री रजनी चांडी सोशल मीडिया पर अपने ग्लैमरस फ़ोटो के चलते सुर्ख़ियों में हैं| इसकी वजह है 69 साल की उम्र में ग्लैमरस कपड़ों में उनकी तस्वीरें जो पहले तो वायरल हुईं और उसके बाद सोशल मीडिया के ट्रोल्स उनके पीछे पड़ गए|ये चीजें ये भी दर्शाती है की आप के सामाजिक संरचना और विचार कैसे हो रहे है | कोई क्या पहनता है क्या नहीं पहनता है ये उसका चुनाव ही होता है |रजनी चांडी का इसमें क्या दोष है या वो अच्छी दिख नहीं सकती या दिखना नहीं चाहती |

रजनी चांडी
आजकल सोशल मीडिया के दौर में आपकी की गयी एक पोस्ट या फोटे कब वायरल हो जाये और कब आप ट्रोल होने लगे आपको भी नहीं पता चलता है | रजनी वैसे जहा से आती है वहाँ पर साड़ी ही पहनी जाती है | आमतौर हाउस वाइफ साड़ी ही पहनती है और हाउस वाइफ से अभिनेत्री बनी रजनी ने एक फ़ैशनबल शूट कराया था | इस फ़ोटोशूट के लिए उन्होंने फ़ैशनबल जींस, शॉर्ट डेनिम, जंपशूट और लाँग ड्रेस का इस्तेमाल किया है और कुछ तस्वीरों में वे अपने बग़ीचे के ताज़े सफ़ेद गुलाब से बने ताज में भी दिखाई देती हैं |लेकिन लगता है कुछ लोगों ये शायद पसंद नहीं आया |

दक्षिण भारतीय मीडिया ने क्यों कहा -बोल्ड एंड ब्यूटीफुल –

रजनी चांडीभारत में जैसा की माना जाता है दक्षिण के लोग ज्यादा पारम्परिक है और ऐसा आप को उनकी फिल्मे देख कर भी महसूस होता है | और साथ में वहाँ के वातारण का भी प्रभाव कह सकते है |केरल में आम तौर पर महिलाएं साड़ी और लंबे स्कर्ट पहनती हैं|ऐसे में रजनी चांडी की इन तस्वीरों के बाद दक्षिण भारतीय मीडिया ने उन्हें बोल्ड एंड ब्यूटीफूल कहा है| एक 69 साल की महिला की वेश -भूषा उनके लिए बोल्ड ही थी | लेकिन रजनी ये बताती है की ये उनका विचार नहीं था |फ़ोटोशूट का आइडिया 29 साल की फोटोग्राफ़र अथिरा जॉय का था, जो कुछ अलग हटकर काम कर रही हैं| बस उनका इसमें सहयोग भर ही था |

एक युवा फोटेग्राफर की सोच और रजनी की लाइफस्टाइल का प्रभाव –

रजनी चांडीआजकल के दौर के लोग बहुत अलग तरह से सोच लेते है और वो कई तरह भ्रांतिया को भी खतम करना चाहता है |आपके अंदर कोई भी विचार यूँ ही नहीं आते |इसमें समाज की पूरी सहभागिता रहती है जरूर नहीं जो पुराने समय में गलत हो वो इस समय में भी गलत हो | अथिरा जॉय ने इस आइडिया के बारे में बताया कि रजनी चांडी उनकी मां से बिलकुल अलग दिखती हैं, लिहाज़ा उन्हें फ़ोटोशूट का आइडिया आया| अथिरा जॉय ने बताया, “भारतीय महिलाएं अपना जीवन विवाह और परिवार पालने के बंधन में बिताती हैं| 60 साल के बाद उनकी अपनी इच्छाएं नहीं रह जाती हैं| वे अपने बच्चों के बच्चों की नानी, परनानी बन चुकी होती हैं ”

रजनी के लिए 69 साल एक नंबर से ज्यादा कुछ नहीं है –

अथिरा ने बताया की उनकी माँ 65 साल की है और उनको कई रोगों ने अपने चपेट में ले रखा है | और उन्हें रजनी सबसे अलग लगी और वो बहुत फिट भी है इस उम्र में होने के बाद |अथिरा ने कहा, “लेकिन रजनी एकदम अलग हैं. वे अपना ख़्याल रखती हैं और वे पूरी तरह फ़िट, बिंदास, सुंदर और फैशनबल हैं| उनकी उम्र भले 69 साल की हो रही हो लेकिन वे मन से वह मेरी तरह 29 साल की ही हैं|

रजनी चांडीरजनी का फोटोशूट बुर्ज़ुगों को जीवन में प्रेरणा –

केरल के परंपरागत समाज में रजनी चांडी हमेशा से अलग दिखती रही हैं और दशकों मुंबई में रहने के बाद वह 1995 में केरल रहने आयीं| उनके पति मुंबई में विदेशी बैंक में काम करते थे| उन दिनों में जब रजनी जींस पहनकर या लिपस्टिक लगाकर निकलती थीं, तो लोग उन्हें अचरज से देखते थे| उन्होंने बताया कि उस दौर में एक बार स्लीवलेस ब्लाउज पहनने के लिए लोगों के ताने भी सुनने पड़े थे|

रजनी चांडीरजनी के मुताबिक़ उन्होंने ये फ़ोटोशूट इसलिए भी कराया ताकि बुर्ज़ुगों को जीवन का आनंद उठाने की प्रेरणा मिल सके|लेकिन पिछले कुछ सालों में उन्होंने अपने गैरपरंपरागत कामों के लिए सुर्ख़ियां बनाई हैं| 2016 में 65 साल की उम्र में उन्होंने एक मलायली कॉमेडी ड्रामा ‘उरू मुथासी गदा’ से अभिनय की दुनिया में क़दम रखा| इसके बाद से वह दो फ़िल्मों में काम कर चुकी हैं| इसके अलावा पिछले साल वे बिग बॉस के मलयाली संस्करण में भी नज़र आ चुकी हैं|

सपनों के पीछा करने की अब उम्र नहीं रही-

ज़्यादातर युवा जोड़े अपने बच्चों को पालने में जवानी बिता देते हैंऔर वे अपनी इच्छाओं को तरजीह नहीं देते हैं|बाद में उन्हें एहसास होता है कि सपनों के पीछा करने की अब उम्र नहीं रही, क्योंकि उन्हें यही लगता है कि समाज के लोग क्या कहेंगे| मेरा मानना है कि जब तक आप किसी को नुक़सान नहीं पहुँचाते तब तक आपको अपनी इच्छा के मुताबिक़ काम करना चाहिए|रजनी ने बताया कि अब जो भी करती हैं फ़न के लिए करती हैं| उन्होंने कहा, “मैंने परिवार और समाज की ज़िम्मेदारियों को पूरा कर लिया है. अब मैं वही करती हूं जिसमें मुझे आनंद मिले| मैं ड्रम बजाना सीख रही हूं| परफ़ेक्ट ड्रमर बनना लक्ष्य नहीं हैऔर मैं केवल आनंद के लिए सीख रही हूं”

रजनी चांडीकपडे तो कपडे है वेस्टर्न या भारतीय –

रजनी चांडी ने बताया था की इस फोटशूट के लिए अथिरा दिसंबर में पूछा था और कहा था आपको वेस्टर्न कपडे पहनने में कोई दिक्कत तो नहीं होगी |मैंने कहा कि नहीं क्योंकि युवावस्था में मैं हमेशा वैसे ही कपड़े पहनती थीऔर मैंने ये भी बताया कि स्विमशूट में भी मैंने तस्वीर खिंचवाई थी |रजनी चांडी को अथिरा का प्रस्ताव दिलचस्प लगा और इसलिए उन्होंने इसे स्वीकार किया |लेकिन एक स्थानीय बूटीक से अथिरा जब कपड़े लेकर आयीं तो रजनी हैरान रह गईं और रजनी चांडी ने कहा, “ग्लैमरस अंदाज़ वाले कपड़े पहने कई साल हो चुके थे, लेकिन जब मैंने पहना तो जल्द ही सहज हो गई|इसलिए मैंकहता हूँ समय तो बीत ही रहा है जो भी करना है इस उम्र में ही करना है |आप लोग इन चीजें को देखते आगे बढ़े|

आप इसे पढ़ना भी पसंद कर सकते हैं:-तांडव मूवी : फिल्म समीक्षा –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here