राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार क्यों दिया जाता है ?

0
720
राजीव गाँधी खेल रत्न

राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार-

राजीव गांधी खेल रत्न भारत में दिया जाने वाला सबसे बड़ा खेल पुरस्कार है। इस पुरस्कार को भारत के भूतपूर्व प्रधानमंत्री श्री राजीव गांधी के नाम पर रखा गया है|यह प्रतिवर्ष खेल एवं युवा मंत्रालय द्वारा प्रदान किया जाता है|प्राप्तकर्ताओं को मंत्रालय द्वारा गठित एक समिति द्वारा चुना जाता है और उन्हें अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पिछले चार साल की अवधि में खेल क्षेत्र में शानदार और सबसे उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया जाता है|

इस पुरस्कार के सर्वप्रथम विजेता कौन थे –

इस पुरस्कार मे एक पदक, एक प्रशस्ति पत्र और नगद राशि पुरस्कृत व्यक्ति को दिये जाते है। सम्मानित व्यक्तियों को रेलवे की मुफ्त पास सुविधा प्रदान की जाती है जिसके तहत राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार एवं ध्यानचंद पुरस्कार विजेता राजधानी या शताब्दी गाड़ियों में प्रथम और दुतीय श्रेणी वातानुकूलित कोचों में मुफ्त में यात्रा कर सकते हैं।इस पुरस्कार की शुरुआत 1991 -92 में हुई थी और सबसे पहला पुरस्कार शतरंज में विश्वनाथन आनंद को मिला था | इस पुरस्कार में खिलाडी को एक प्रशस्ति पत्र के साथ 25 लाख रूपए नगद भी दिए जाते है |

राजीव गाँधी खेल रत्न (2)

सबसे कम उम्र में अभिनव बिंद्रा को मिला ये पुरस्कार –

इस पुरस्कार को सबसे कम उम्र में शूटर अभिनव बिंद्रा को दिया गया था उनकी उम्र उस समय सिर्फ १८ वर्ष ही थी | अभी हाल में ये पुरस्कार क्रिकेट के खिलाडी रोहित शर्मा को मिला है |ये पुरस्कार एक वर्ष में केवल एक व्यक्ति को दिया जा सकता है लेकिन कभी -कभार इसमें अपवाद देखने को भी मिले |

अभी तक कुल ये 43 लोगों को अवार्ड मिल चूका है |इस पुरस्कार पाने वाले में कई दिग्गज भी है जैसे सचिन तेंदुलकर , लेंडर पेस , गीत सेठी , साइना नेहवाल भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी ,सानिया मिर्ज़ा ,मैरी कॉम,योगेश्वर दत्त,पुसर्ला वेंकट सिंधु,दीपा कर्मकार,साक्षी मलिक|इसलिए खेल की दृस्टि से देखे तो ये खेल पुरस्कार बहुत ही जाना माना पुरस्कार है |

आप इसे पढ़ना भी पसंद कर सकते हैं:-टेनिस का नंबर -1खिलाडी क्यों हुआ यूएस ओपन २०२० के बीच में ही बाहर?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here