वेब होस्टिंग क्या है और सबसे अच्छी वेब होस्टिंग कौन सी है –

0
176
वेब होस्टिंग

वेब होस्टिंग और वेबसाइट-

वेब होस्टिंग क्या है ?आज में आपको बताऊंगा और अपना खुदका एक website होना बहुत बड़ी बात है लेकिन Website को maintain कर पाना सबके बस की बात नही, इसके लिए proper knowledge का होना बहुत ज़रूरी है।Website बनाने केलिए बहुत सी चीज़ों को ध्यान मे रखना होता है जैसे आपके website के लिए domain name और hosting का होना बेहद ज़रूरी है जिसके वजह से हमारे website को पहचान मिलती है।

लेकिन जो blogging के दुनिया मे नये हैं उन्हे होस्टिंग का अर्थ के बारे मे ज़्यादा जानकारी नही होती,और इसी कारण वो उनके ज़रूरतों के हिसाब से ग़लत वेब होस्टिंग चुन लेते हैं जिसके वजह से उन्हे आगे जा कर बहुत सी परेशानियाँ झेलनी पड़ती है। इसलिए आज में इस लेख मे आपको वेब होस्टिंग मीनिंग के बारे मे ही जानकारी देंगे की और ये कितने प्रकार के होते हैं। ताकि आप अपने वेबसाइट के लिए सही वेब होस्टिंग चुन सके।और आप कहा से इसे खरीद सकते है।

वेब होस्टिंग आखिर क्या बला है –

आये समझते है की वेब होस्टिंग क्या चीज है और ये कैसे काम करती है। जब आप वेबसाइट बनाते है या ब्लॉग तो उसमे आप कई तरह के वीडियो ,इमेज और कंटेंट डालते है तब ये सब कंटेंट जहा स्टोर होते है वो एक सर्वर होता है। ऐसा इसलिए होता है की दूसरे लोग इसको एक्सेस न कर पाए।वेब होस्टिंग सारे websites को Internet मे जगह देने की सेवा प्रदान करता है। इसकी वजह से किसी एक व्यक्ति या organization के website को पूरी दुनिया मे Internet के ज़रिए access किया जा सकता है। जगह देता है से मेरा मतलब है की आपके website के files, images, videos, etc को एक special computer पे store करके रखता है।

इसी से वो computer हर वक़्त 24×7 Internet से connected हो कर रहता है। Web hosting की सेवा हमे बहुत सारे companies प्रदान करते हैं जैसे Bluehost Hostgator, etcऔर इनको हम web host भी कहते हैं को हम web server कहते हैं। अपने वेबसाइट को दूसरे high powered computers (web servers) मे store करके रखने के लिए हम उन्हे किराया देते हैं जैसे हम किसी अंजान के घर मे रहने के लिए किराया देते हैं ठीक उसी तरह है।

वेब होस्टिंग काम कैसे करता है –

जब हम अपना website बनाते हैं तो हम यही चाहते हैं की हम अपना knowledge और information लोगों के साथ बाटें, तो उसके लिए हमे पहले अपने files को वेब होस्टिंग पर upload करना पड़ता है।ऐसा कर लेने के बाद, जब भी कोई Internet यूज़र अपने web browserपे आपका domain name टाइप करता है। जैसे उदहारण स्वरुप -allgyan टाइप करता है।

उसके बाद Internet आपके domain name को उस web server से जोड़ देता है जहाँ आपके website का फाइल्स पहले से ही store हो कर रखी हुई है।जोड़ने के बाद website का सारा information उस यूज़र के कंप्यूटर मे पहुँच जाता है फिर वहाँ से यूज़र अपने ज़रूरतो के हिसाब से पेज को view करता है और ज्ञान ग्रहण करता है।Domain Name को वेब होस्टिंग में जोड़ने केलिए DNS(Domain Name Syatem) का इस्तिमाल किया जाता है इससे domain को ये पता चलता है के आपका website कौनसे web server में रखा गया है।क्योकि हर server का DNS अलग अलग होते है।

Web होस्टिंग प्रकार का होता है-

हमने अभी तक ये जाना की वेब होस्टिंग क्या होता है और ये कैसे काम करता है।आगे चलिए जानते हैं की इस्तेमाल के अनुसार कितने प्रकार का होता है ये समझते है।

1 -Shared web Hosting
2 -Virtual Private Server (VPS)
-Dedicated Hosting
4-Cloud Web होस्टिंग

1. Shared Web होस्टिंग

जिस तरह हम किसी हॉस्टल में या फिर लॉज में रहते हैं तो उसमे और भी लड़के होते हैं और उनके साथ मिलकर सब बराबर बराबर रेंट देकर sharing में रहते हैं।ठीक उसी तरह Shared web Hosting में बहुत सारी वेबसाइट को एक ही वेब सर्वर में स्टोर कर के रखा जाता है।इस तरह की सेवा बिगिनर्स के लिए अच्छा होता है।क्यों की उन्हें न तो ज़्यादा ट्रैफिक आएगी शुरुआत में और न कोई परेशानी होगा।यहाँ प्रॉब्लम तब आती है जब वेबसाइट Popular हो जाती है और उसमे ट्रैफिक बहुत ज़्यादा बढ़ जाती है। अब क्या होगा की ट्रैफिक के बढ़ जाने सर्वर का लोड बढ़ जाएगा और उसकी स्पीड ट्रैफिक के अनुसार पर्याप्त नहीं होगी। जिससे की वेबसाइट Slow स्पीड में काम करेगा और पेज लोड होने में काफी समय लगाएगा।

इसके अलावा दूसरी वेबसाइट जो साथ में है वो भी धीमी गति से काम करने लगेंगे। इसे हम एक उदाहरण के द्वारा समझते हैं हम अपने स्मार्टफोन में बहुत सारे Apps का इस्तेमाल करते हैं।ये अलग अलग साइज के होते हैं जब हम इनको एक साथ minimize कर के इस्तेमाल करते हैं और साथ में एक गेम भी ओपन कर लेते हैं। अब उसे Minimize कर के रखे आप देखेंगे की आपका स्मार्टफोन अब बहुत धीमी गति से काम करेगा।ऐसा इसलिए हुआ क्यों की हाई ट्रैफिक वेबसाइट की तरह गेम्स भी हमारे फ़ोन का ज़्यादा स्पेस और राम का उसे करते हैं. इसीलिए पूरा फ़ोन ही Slow हो जाता है और साथ ही दूसरे Apps भी धीमी गति से चलने लगते हैं।

2. Virtual Private Servers (VPS)

Virtual Private Severs एक बड़े बिल्डिंग के फ्लैट्स के जैसा ही है जहाँ एक फ्लैट का मालिक एक ही आदमी होता है और अकेले ही सारी रेंट भरता है।उसके साथ पैसे भरने में कोई शेयर नहीं करता है और कोई दूसरा मालिक आकर उसमे नहीं रह सकता। इसमें बिल्डिंग तो एक ही लेकिन फ्लैट्स के रूप में ये कई हिस्सों में बांटा हुआ है जिसमे अलग अलग मालिक हैं।ठीक इसी तरह VPS में Virtualization तकनीक का इस्तेमाल किया जाता है जिसमे Server के रूप में फिजिकल कंप्यूटर सिस्टम बस एक ही होता है लेकिन virtually कई हिसो में बांटा हुआ होता है।

चूँकि इसमें सारी websites एक ही Physical Server में रहती हैं। लेकिन virtually अलग अलग divided space में स्टोर की हुई होती हैं। और दूसरे वेबसाइट के स्पेस का इस्तेमाल नहीं कर पाती हैं। यही कारण है की इस तरह की Web Hosting में ज़्यादा ट्रैफिक होने पर भी वेबसाइट की स्पीड मेन्टेन रहेगी धीमी नहीं होगीऔर किसी भी तरह का कोई परेशानी नहीं होगी आगे जाके और कम खर्च में Dedicated सर्वर जैसी क्षमता अपनी वेबसाइट की performance के लिए चाहते हैं हैं तो VPS सर्वर बेस्ट है।

3. Dedicated Server होस्टिंग

Dedicated Server एक आलिशान घर जैसा है जहाँ पर बस आपका अधिकार होता है और हर तरह की सुविधा उपलब्ध होती है। बस आपको इसके लिए खर्च उठाना पड़ता है अलग अलग सुविधा का इस्तेमाल करने लिए. Dedicated में जो सर्वर का प्रयोग किया जाता है वो बहुत फ़ास्ट होता है और काफी तेज़ गति से काम करता है।ये सिर्फ एक ही वेबसाइट के लिए होता है इसीलिए तो इसको Dedicated नाम दिया गया है।

Dedicated में जो सर्वर होता है वो केवल एक ही वेबसाइट के सारे contents जैसे फोटो वीडियो documents को स्टोर कर के रखता हैइसमें कोई Sharing नहीं होती कोई दूसरा वेबसाइट का कंटेंट नहीं रहता। इसीलिए इसकी गति भी तेज़ होती है। इसमें sharing में कोई दूसरी वेबसाइट नहीं रहती है इसीलिए ये थोड़ी महंगी होती है और सिर्फ एक ही आदमी को इसका सारा खर्च उठाना पड़ता है। जिस वेबसाइट में ट्रैफिक बहुत ज़्यादा होती है और visitors बहुत आते हैं वेबसाइट में तो उनके लिए ये बहुत फायदेमंद है।इस तरह की सेवा का इस्तेमाल ज़्यादातर e-Commerce वाली वेबसाइट करते हैं जैसे Amazon , ebay , Snapdeal , Transportation से जुड़े वेबसाइट है।

4. Cloud Web होस्टिंग

ये एक नया प्रकार की Web Hosting हैं और ये काफी तेज़ी से मार्किट में फैलती जा रही है।ये बाकि से Performance और Cost वाइज थोड़ी different है। इसमें बहुत सारे Servers एक साथ सिर्फ एक वेबसाइट के लिए काम करते हैं और बेस्ट सर्विस देते है साथ ही ये वेबसाइट को Secure भी करते हैं। Group of Servers जब एक साथ मिलकर काम करते हैं तो इसी को Cloud बोलते हैं। इससे high traffic वाले वेबसाइट को बहुत आसानी के साथ control किया जाता है और रेगुलरली अच्छी स्पीड होती है वेबसाइट की ज़्यादा ट्रैफिक होने पर भी।

यही वजह है की Cloud होस्टिंग सबसे कॉस्टली मानी जाती थी. लेकिन अब ये काफी सस्ते प्लान के साथ आ चुकी है. अभी Digital Ocean और Vultr ने काफी सस्ते में क्लाउड सर्वर की सेवा शुरू की है। वो भी शुरू के 1 महीने आप फ्री में इस्तेमाल कर के देख सकते हैं और इसकी परफॉरमेंस चेक कर सकते हैं की आपकी वेबसाइट की स्पीड कितनी हैं तो Digital Ocean और Vultr से 1 महीने की सेवा खरीदने के लिए आप यहाँ क्लिक कर के खरीद सकते हैं।

कौन सी कंपनी से होस्टिंग खरीदें-

ये परिचय होने के बाद आपको ये जानने का पूरा अधिकार है की कौन सी होस्टिंग सबसे अच्छी है और कौन सी खरीदी जो की हमे किफायती दाम में भी मिल जाये।वेब होस्टिंग खरीदने केलिए आपके पास बहुत सारे options आयेंगे, पर आपको ये decide करना पड़ेगा के आपके जरूरतों के हिसाब से कौनसा company ठीक रहेगी।Hosting खरीदने से पहले कुछ जानकारिय होना बेहद जरुरी है।अगर आपका बजट कम है तो कम पैसे में जो सबसे अच्छे फीचर्स वाली होस्टिंग के बारे बताया जा रहा है।

1 – blueHost

2003 में शुरू हुई ये कंपनी बहुत ही कम समय में बहुत ज्यादा प्रसिद्ध हो गयी है।और भारत में इसे खासकर बहुत पसंद किया जा रहा है। इसके बेसिक्स प्लान बहुत ही अच्छे है।ब्लूहोस्ट होस्टिंग होस्टिंग प्रदाता कंपनियों में सबसे ऊपर आती है इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि वर्डप्रेस खुद ब्लूहोस्ट होस्टिंग के लिए आपको सलाह देता है इसके फीचर्स बहुत अच्छे हैं स्पीड बहुत अच्छी है साथ ही ये सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के लिए भी बहुत अच्छी है।

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के लिए आपको बेहतरीन सुविधाएं देती है इसका डेस्क बोर्ड बहुत यूजर फ्रेंडली है अगर आप नई वेबसाइट के लिए ब्लूहोस्ट होस्टिंग लेते हैं तो आपको समझने में ज्यादा परेशानी नहीं आएगी यह इसके यूजर फ्रेंडली डेस्क बोर्ड के कारण है साथ ही उनका सपोर्ट सिस्टम भी बहुत अच्छा है।

ब्लू होस्ट होस्टिंग के प्रकार:-

ये बहुत तरह की होस्टिंग प्रदान करते है

1 -Shared web hosting
2 – Dedicated web hosting
3 – WordPress hosting
4 -Cloud hosting
5 -Virtual dedicated web hosting
6– Managed होस्टिंग
7-Clustered होस्टिंग

bluehost होस्टिंग के फायदे-

ब्लू होस्ट होस्टिंग के फायदों के लिस्ट आपको निचे दी जा रही है

1-ये बहुत रिलाएबल है ये बहुत वेबसाइट एक साथ चलने पर भी डाउन नहीं होती है इसलिए ज्यादातर लोग इसे पसंद करते है।

2-ये बहुत सस्ता होस्टिंग सर्वर है इसलिए नए लोग भी इसे प्रयोग कर सकते है जिन्होंने अभी अभी काम शुरू किया है और जिनका बजट कम ह।

3-इनका कोई hidden चार्ज भी नहीं है।

4– ये नए यूजर के लिए एक साल तक फ्री डोमेन प्रदान करते है।

ब्लूहोस्ट होस्टिंग प्लान-

1 -Basic plan
2 – Prime plan
3 – Plus plan
4 -Business pro प्लान

ब्लूहोस्ट ने अभी तक 2 मिलियन से ज्यादा वेबसाइट होस्ट कर चूका है इसका साफ़ मतलब है की इसकी सर्विस अच्छी है और स्पीड भी बहुत अच्छी है।

1-Basic plan

बेसिक प्लान में निचे दिए गए फीचर्स मिलते है।

इसमें आप 1 वेबसाइट होस्ट सकते है, 500 जी बी स्पेस मिलता है, ये 5 अगल अगल ईमेल अकाउंट की सुबिधा देता है जिसके हर अकाउंट में 100 एम बी का स्पेस होता है।अगर आप एक वेबसाइट से शुरू करना कहते है तो ये आपके लिए अच्छा प्लान है

2-Plus plan

प्लस प्लान में निचे दिए गए फीचर्स मिलते है। इसमें आप अनलिमिटेड वेबसाइट होस्ट कर सकते है, इसमें आपको फिक्स स्पेस मिलता है, ये अनलिमिटेड ईमेल अकाउंट की सुबिधा देता है जिसके हर अकाउंट में अनलिमिटेड स्पेस होता है इन सबके साथ साथ ये आपको स्पैम यूजर से भी सुरक्षा प्रदान करता है।

3-Prime Plan

प्राइम प्लान में निचे दिए गए फीचर्स मिलते है

इसमें आप अनलिमिटेड वेबसाइट होस्ट कर सकते है, इसमें आपको फिक्स स्पेस मिलता है, ये अनलिमिटेड ईमेल अकाउंट की सुबिधा देता है जिसके हर अकाउंट में अनलिमिटेड स्पेस होता है इन सबके साथ साथ ये आपको प्राइवेसी, वेबसाइट बैकअप सुविधा, और भी बहुत सरे फीचर्स प्रदान करता है।

4-Business Pro प्लान

बिज़नेस प्रो प्लान में निचे दिए गए फीचर्स मिलते है

इसमें आप अनलिमिटेड वेबसाइट होस्ट कर सकते है, इसमें आपको फिक्स स्पेस मिलता है, ये अनलिमिटेड ईमेल अकाउंट की सुबिधा देता है जिसके हर अकाउंट में अनलिमिटेड स्पेस होता है इन सबके साथ साथ ये आपको प्राइवेसी, वेबसाइट बैकअप सुविधा, और भी बहुत सारे फीचर्स प्रदान करता है।

हमने आपको होस्टिंग के कई सारे प्लान ऊपर बताएं इन प्लानों में से अपने बजट और जरूरत के हिसाब से एक प्लान आप चुन सकते हैं। डोमिन या तो आपके पास पहले से उपलब्ध होगा अगर उपलब्ध नहीं है तो आप नया डोमेन ले सकते हैं ब्लूहोस्ट होस्टिंग के साथ यह आपको एक और फायदा होने वाला है कि यह 1 साल के लिए आपको 2 महीने फ्री में दे रहे हैं अगर आपको नया डोमेन लेना है तो आप इनसे नया डोमेन 1 साल के लिए फ्री में ले सकते हैं।

डोमेन और होस्टिंग के बाद जो चरण आता है वह आपकी व्यक्तिगत जानकारी फॉर्म में भरना और उसके बाद पेमेंट करना यह सारी प्रक्रिया पूरी करके आप आप होस्टिंग प्रयोग कर सकते हैं ब्लू होस्ट होस्टिंग में कुछ विशेषताएं जो उसको यूनिक बनती है जिसकी वजह से ये लोगो की पहले पसंद बना हुआ है।

1 – ये वर्डप्रेस द्वारा रेकमेंडेड होने की वजह से ब्लोग्गेर्स की पहले पसंद है वर्डप्रेस को इनस्टॉल करना और मैनेज करना बहुत आसान है।

2 -ये अपने यूजर को इन हाउस सुविधा भी प्रदान करता है इसके खुद के ऑपरेटिंग सिस्टम और फाइवर कनेक्शंस है।

3 – इसके खुद के डाटा सेंटर्स है।

4 – ये आपको गूगल और बिंग से विज्ञापन खरीदने में भी मदद करता है।

Hostinger Web होस्टिंग-

होस्टिंगर एक ऐसी Hosting Provide Company है जहाँ से आप बहुत ही Affordable Price में Hosting खरीद सकते हैं. और साथ में आपको एक Free में Domain और SSL भी मिल जाता है।जो नए Blogger Hosting में अधिक पैसे Invest नहीं करना चाहते हैं उनके लिए Hostinger सबसे Best है। Hostinger एक Domain और Hosting Provide कराने वाली Company है, जिसकी शुरुवात 2004 में हुई थी।

यह एक American Company है।पहले इसका नाम Hosting Media था पर 2011 में इसे बदलकर Hostinger कर दिया गया था। Hostinger Shared के साथ – साथ WordPress, Cloud, और VPS Hosting Provide करवाता है।लेकिन एक नए Blogger के लिए इसका Shared Hosting सबसे Best है।हम एक सारणी के माध्यम से Hostinger Shared Hosting के Plan And Price के बारे में जानेंगे जिससे कि आपको समझने में आसानी हो।

2 -Hostinger के फायदे

Shared Hosting बहुत सस्ती है. शायद ही इतने कम दाम में इतने अच्छे Feature कोई अन्य Hosting Company करवाती हो.
आपको इसके Premium Plan में एक Domain 1 साल के लिए Free में मिल जाता है।

1-Customer Support काफी अच्छा है।
2-Free में SSL Certificate Provide करवाता है।
3-Premium और Business Web Hosting में Unlimited Bandwidth मिलती है।
4-इसका CPanel का Interface Is Easy To Use है।

होस्टिंगर की कमियां –

1– Daily Backup की सुविधा केवल Business Plan में है।
2- Free CDN भी केवल Business Plan लेने पर मिलता है।
3 -अगर आप Single Web Hosting Plan खरीदते हैं तो आपको Domain Free नहीं मिलता है।
4 -Dedicated Server Available नहीं है।
5 -Hostinger के शुरूआती Plans में CDN नहीं मिलता है।

3- GoDaddy होस्टिंग –

गोडैडी एक बहुत ही जाना माना नाम है web hosting और Domain bussiness की दुनिया में है। गोदड़ी का जब आप पहली बार प्लान लेंगे तो वह आपको इतना सस्ता नहीं पड़ेगा। तो हम यह नहीं कह सकते कि यह कुछ सबसे सस्ते web hosting providers में से एक है। लेकिन, जो इनके रेट हैं वह बहुत ही ज्यादा competitive हैं।GoDaddy मुख्य रूप से शेयर्ड होस्टिंग (godaddy shared hosting) के लिए न्यूकमर्स, छोटे बिजिनेस के लिए सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है क्यूंकि गो डैडी होस्टिंग प्लान (godaddy hosting plan) बहुत कम कीमत पर वेब होस्टिंग में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए ऊँचे पायदान पर पहुंचे हैं।

GoDaddy में एक मॉडर्न और एडवांस्ड वेबसाइट बिल्डर (advanced website builder) है जो किसी भी व्यक्ति को जो html कोडिंग से अनजान हैं उनको मनपसंद की वेबसाइट बनान आसान बनाता है।इसके पास प्रोफेशनल इमेजों एक बहुत बड़ी लाइब्रेरी है ताकि आप अपने वेबसाइट में ऐसे इमेज लगा सकें जो आपके निश (Nieche), व्यवसाय या जुनून को दर्शाती हैं।आप अपनी डिजाईन की गयी खुद की इमेज भी अपलोड कर सकते हैं। इसमें एक स्‍वाइप (swipe) के साथ स्‍टाइल इंटरफेस भी है, जहां आप अपनी वेबसाइट को कुछ ही स्‍वाइप में स्टाइलिश बना सकते हैं।यह आपको मिक्स-एंड-मैच की सुविधा भी देता है जहां आप अपनी वेबसाइट के प्रत्येक भाग को को कस्टमाइज कर सकते हैं क्योंकि इसके टेम्प्लेट्स को अपने सुविधानुसार एडिट कर सकते हैं।

गोडैडी में होस्ट किये जाने वाले वेबसाइट सुरक्षा के प्रति बहुत गंभीर है, इसके प्रोडक्ट्स जिसमें आटोमेटिक मैलवेयर स्कैनिंग, निरंतर सुरक्षा निगरानी, वेब एप्लीकेशन फ़ायरवॉल (WAF) और कंटेंट वितरण नेटवर्क (CDN) शामिल हैं।वेबसाइट सिक्यूरिटी लगातार आपकी साइट तक पहुँचने से मैलवेयर और दुर्भावनापूर्ण ट्रैफ़िक को रोकती है। यह डिस्ट्रीब्यूटेड डिनायल ऑफ सर्विस (DDoS) और जीरो डे हमलों के खिलाफ भी बेहतर ढंग से सुरक्षा करता है।

GoDaddy को लेने के नुकसान –

1 -क्लाउड होस्टिंग सर्विस नहीं है।
2 – डिफ़ॉल्ट ईमेल प्लान।
3 -गो डैडी (SSH/SFTP) एक्सेस की सुविधा नहीं।

हालाँकि, ध्यान देने वाली बात यह है कि GoDaddy में क्लाउड होस्टिंग प्लान्स का अभाव है, और इसमें डिफ़ॉल्ट ईमेल खातों की संख्या उम्मीद से बहुत कम है।फिर भी, यदि आप जल्द से जल्द एक वेबसाइट सेटअप करना चाहते हैं, तो GoDaddy के पास एक सही और कामयाब तरीके से साईट को लॉन्च के लिए आवश्यक टूल्स मौजूद हैं।

पुरे लेख में जैसा की हमने कोशिश की आपको होस्टिंग को पूरा लेखा -झोखा दे सके और आपको बता सके की इस समय जो होस्टिंग बेहतर हैआपके लिए और इसलिए कुछ वेब होस्टिंग प्रोवाइडर के बारे आपको विवरण देने की कोशिश की है सभी वेब होस्टिंग अपने कुछ फायदे कुछ नुकसान होते है।आपको अपने बजट और अपनी सुविधा के अनुसार होस्टिंग खरीदना चाहिए। हमारे हिसाब से जो होस्टिंग जो सबसे अच्छी है वो ब्लूहोस्ट ही है कम दाम और किफायती। आपको हमारे लेख पसंद आये तो हमे अपना प्यार दे।

आप इसे पढ़ना भी पसंद कर सकते हैं:-मनुष्य और मशीन कौन ज्यादा शक्तिशाली है ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here